कंप्‍यूटर और लैपटॉप में अंतर क्या हैं?

Computer Aur Laptop Me Antar क्‍या हैं ? जब भी किसी को कंप्यूटर खरीदना होता है या वैसे भी कंप्यूटर और लैपटॉप के बारे में जानना चाहते हैं तो इंटरनेट पर सर्च करते रहते हैं

ताकि कंप्यूटर और लैपटॉप में कौन सा बेहतर हो सकता है तथा दोनों में क्या अंतर है यदि एक नया कंप्यूटर खरीदना हो तो लैपटॉप लेना ठीक रहेगा या फिर डेक्सटॉप कंप्यूटर लेना ठीक रहेगा इस तरह के सवाल लोगों के मन में जरूर आता है.

यदि आप भी इस तरह के सवालों से परेशान हैं और कंप्यूटर और लैपटॉप में अंतर क्या के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख में आपको पूरी जानकारी नीचे विस्तार से दी गई है.

वर्तमान समय में तकनीक इतना ज्यादा आगे बढ़ गया है कि आप गांव देहात के लोग भी कंप्यूटर खरीदना चाहते हैं या लैपटॉप खरीदना चाहते हैं क्योंकि आज के समय में लैपटॉप कंप्‍यूटर से ही ऑनलाइन पढ़ाई किया जा रहा है

जिसके कारण लोगों को लैपटॉप या स्मार्टफोन खरीदना पड़ रहा है क्‍योंकि अब बच्चों को पढ़ाना पूरी तरह से स्मार्टफोन लैपटॉप इंटरनेट पर ही आश्रित हो गया है.

कंप्यूटर और लैपटॉप में अंतर

डेक्‍सटॉप कंप्यूटर एक ऐसा कंप्यूटर है जिसमें कंप्यूटर के अलग-अलग जो मुख्य पार्ट्स हैं वह मौजूद रहते हैं जैसे कि डेक्सटॉप कंप्यूटर के साथ में सीपीयू मॉनिटर कीबोर्ड माउस यूपीएस इत्यादि होता है.

डेक्‍सटॉप कंप्यूटर एक ऐसा कंप्यूटर है जिसको किसी एक जगह पर रख कर के काम करने के लिए उपयोग करना पड़ता है क्योंकि डेक्‍सटॉप कंप्यूटर को आप एक जगह से दूसरी जगह ले जाना चाहते हैं तो उसके लिए काफी दिक्कत होगा.

 

Difference between computer and laptop in hindi - कंप्यूटर और लैपटॉप में अंतर

क्योंकि उसमें अलग-अलग पार्ट्स होते हैं जिसको ले जाना थोड़ा मुश्किल होता है इसलिए यदि आप किसी एक स्थान पर रख कर के और कंप्यूटर से काम करना चाहते हैं तो डेक्‍सटॉप  कंप्यूटर खरीद सकते हैं.

डेक्सटॉप कंप्यूटर कम बजट में एक बेहतर कंप्यूटर खरीदा जा सकता है जिसका इस्तेमाल पढ़ाई के लिए या अन्य कामों के लिए किया जा सकता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर का रखरखाव भी किसी साधारण स्थान पर किया जा सकता है

डेक्सटॉप कंप्यूटर में यदि किसी भी प्रकार का कोई गड़बड़ी या दिक्कत होता है तो उसको आसानी से ठीक करवाया जा सकता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर के मेंटेनेंस के लिए कम पैसा खर्च पड़ता है.

डेक्‍सटॉप कंप्यूटर में जो अंदरूनी पार्ट होते हैं यदि उस को बदलने की आवश्यकता होता है तो आसानी से बदला जा सकता है क्योंकि डेक्सटॉप कंप्यूटर में सीपीयू को खोल करके उसके जितने भी पार्ट्स है उसको बदला जा सकता है उसको रिपेयर किया जा सकता है.

डेक्‍सटॉप कंप्यूटर का मूल्य भी लैपटॉप से कम होता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर के जो कंफीग्रेशन होता है यदि एक सामान्य कंफीग्रेशन में डेक्‍सटॉप कंप्यूटर को खरीदा जाए और उसी कंफीग्रेशन में लैपटॉप को खरीदा जाए तो लैपटॉप का जो प्राइस है वह ज्यादा होगा जबकि डेक्सटॉप कंप्यूटर का प्राइस कम होगा.

लैपटॉप कंप्‍यूटर क्या है

Laptop computer भी एक कंप्यूटर है जिसमें डेक्सटॉप कंप्यूटर के जितने अलग-अलग पार्ट्स होते हैं उन सभी पार्ट्स को एक साथ जोड़ करके एक लैपटॉप कंप्‍यूटर को तैयार किया जाता है. Laptop computer में अलग से किसी भी पार्ट को नहीं जोड़ा जाता है क्योंकि लैपटॉप में सब कुछ रहता है जैसे कि कीबोर्ड माउस सीपीयू बैटरी इत्यादि सब कुछ एक लैपटॉप के साथ रहता है.

यदि आपको अलग-अलग जगहों पर लैपटॉप कंप्‍यूटर पर काम करने की आवश्यकता है आपको ज्यादा ट्रेवल करना पड़ता है तो उसके लिए सबसे अच्छा है कि आप एक लैपटॉप खरीदें क्योंकि लैपटॉप को आसानी से आप एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकते हैं

जबकि डेक्‍सटॉप कंप्यूटर को नहीं ले जा सकते हैं इसलिए यदि आपको ज्यादा ट्रैवल करना है तो लैपटॉप कंप्‍यूटर सबसे अच्छा है.

Computer aur laptop me antar1

लैपटॉप कंप्‍यूटर का प्राइस थोड़ा महंगा होता है लेकिन इसका वजन कम होता है तथा इसको आप आसानी से बैग में कैरी कर सकते हैं Laptop computer आज के समय में एक बहुत बढ़िया कंप्यूटर है जिसको कहीं भी ले जा कर के और बिना लाइन के आप 4 घंटा काम कर सकते हैं.

लैपटॉप कंप्‍यूटर के कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • लैपटॉप का वजन कम होता है
  • लैपटॉप का प्राइस डेक्‍सटॉप कंप्यूटर से ज्यादा होता है
  • लैपटॉप के सारे पार्ट्स को बदलना संभव नहीं है
  • लैपटॉप को आप कहीं भी कैरी कर सकते हैं
  • लैपटॉप में अगर कोई पार्ट्स डैमेज हो जाता है तो उसको रिपेयरिंग करना डेक्‍सटॉप कंप्यूटर से थोड़ा महंगा होता है
  • लैपटॉप को बिना लाइन के भी आप 4 घंटा चला सकते हैं

कंप्यूटर और लैपटॉप के बनावट में अंतर

Screen size – एक डेक्सटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप कंप्‍यूटर का स्क्रीन के साइज में काफी अंतर होता है क्योंकि डेक्सटॉप का स्क्रीन साइज के साथ-साथ उसका रिजुलेशन अलग होता है जबकि एक Laptop computer का स्क्रीन साइज और रिजुलेशन अलग होता है.

लैपटॉप के स्क्रीन साइज को बदलना संभव नहीं है जबकि डेक्सटॉप के स्क्रीन साइज को बदला जा सकता है

Performance – डेक्सटॉप कंप्यूटर ज्यादा टिकाऊ होता है जिसके तुलना में लैपटॉप कंप्‍यूटर का आयु कम होता है क्योंकि डेक्सटॉप कंप्यूटर में यदि किसी भी प्रकार का कोई दिक्कत होता तो उसको बदला जा सकता है लेकिन लैपटॉप में यदि किसी तरह का कोई ज्यादा दिक्कत हो तो उसको बदलना संभव नहीं है.

Design – लैपटॉप कंप्‍यूटर डेक्‍सटॉप कंप्यूटर दोनों के डिजाइन की यदि बात की जाए तो लैपटॉप का डिजाइन थोड़ा बेहतर होता है तथा देखने में वह ज्यादा आकर्षक लगता है जिसके तुलना में डेक्‍सटॉप कंप्यूटर में अलग-अलग पार्ट होते हैं जिसके चलते उसका जो डिजाइन होता है उतना ज्यादा अच्छा नहीं होता है

Battery – डेक्‍सटॉप और लैपटॉप कंप्‍यूटर में सबसे बड़ा यदि अंतर है तो वह यह है कि डेक्सटॉप कंप्यूटर को आप बिना बिजली सप्लाई किए नहीं चला सकते हैं जबकि लैपटॉप को बिना बिजली के भी आप 3 से 4 घंटे तक चला सकते हैं.

Processor – जहां तक प्रोसेसर की बात की जाए तो एक डेक्‍सटॉप कंप्यूटर और एक Laptop computer में प्रोसेसर में ज्यादा अंतर नहीं होता है एक सामान्य रूप का ही प्रोसेसर होता है जो कि एक सामान्य तरह का काम करता है.

यदि दूसरे कंपनी का कोई प्रोसेसर है और उसका यदि तुलना किया जाए तो थोड़ा सा अलग हो सकता है नहीं तो प्रोसेसर का सामान्य रूप से काम जो भी लैपटॉप में जिस तरह से होता है ठीक वैसे ही डेक्सटॉप में भी होता है.

लैपटॉप और कंप्‍यूटर में अंतर

Laptop Desktop Computer
लैपटॉप एक ऑल इन वन प्रोडक्ट है जबकि डेक्सटॉप के साथ अलग-अलग पार्ट्स जुड़े हुए रहते हैं
लैपटॉप कुछ देर तक बिना बिजली के काम कर सकता है डेक्सटॉप बिना बिजली का काम नहीं कर सकता हैं
लैपटॉप को कहीं भी ले जा सकते हैं जबकि डेक्‍सटॉप कंप्यूटर को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना संभव नहीं है
जबकि लैपटॉप के सारे पार्ट्स को नहीं बदल सकते हैं केवल कुछ ही पार्ट्स को बदला जा सकता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर के किसी पार्ट्स को बदल सकते हैं
लैपटॉप थोड़ा महंगा होता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर लैपटॉप से थोड़ा सस्ता होता है
Laptop computer में स्क्रीन साइज को नहीं बदल सकते हैं डेक्‍सटॉप कंप्यूटर में स्क्रीन के साइज को बदल सकते हैं
लेकिन लैपटॉप में एक ही कंपनी के सारे पार्ट्स होते हैं उसको असेंबल नहीं करा सकते हैं डेक्सटॉप कंप्यूटर को अपने हिसाब से असेंबल करा सकते हैं
जबकि लैपटॉप में अलग से ग्रैफिक्स को डालना हो तो काफी मुश्किल होता है तथा उसको अंदर नहीं लगाया जा सकता है डेक्‍सटॉप कंप्यूटर में अलग से ग्रैफिक्स कार्ड को बढ़ा सकते हैं
लैपटॉप में हार्ड डिक्स रैम को बढ़ाया जा सकता है या बदला जा सकता है लेकिन लैपटॉप के कुछ जरूरी पार्ट्स को नहीं बदला जा सकता है डेक्सटॉप कंप्यूटर में रैम हार्ड डिक्स प्रोसेसर को बदला जा सकता है

 

 

सारांश

लैपटॉप और कंप्‍यूटर में अंतर के बारे में दी गई जानकारी कैसा लगा कृपया कंमेंट बॉक्‍स में लिखें।