निकोला टेस्ला एक महान वैज्ञानिक /The great scientist Nikola Tesla

निकोला टेस्ला एक महान वैज्ञानिक

निकोला टेस्ला 19 वीं शताब्दी के महान आविष्कारकों में से एक थे. हालांकि वो कभी अपने महान प्रतिद्वंद्वी थॉमस एडिसन जितने लोकप्रिय नहीं हुए.

दिलचस्प बात ये भी है कि थॉमस एडिसन उनके बॉस थे.

जो बिजली की रूप में ख़पत करते हैं इसे विकसित करने में क्रोएशियाई इंजीनियर निकोला टेस्ला का बड़ा योगदान है.

एडिसन डायरेक्ट करंट (डीसी) को बेहतर मानते थे, जो 100 वोल्ट की पावर पर काम करता था और उसे दूसरे वोल्टेज में बदलना मुश्किल था. लेकिन टेस्ला का सोचना था कि अल्टरनेटिव करंट (एसी) बेहतर है, क्योंकि उसे एक जगह से दूसरी जगह ले जाना आसान था.

जीवन

टेस्ला का जन्म 10 जुलाई 1856 को सर्बियन मातापिता मिलुटिन टेस्ला और ड्युका टेस्ला के परिवार मे आस्ट्रीयन साम्राज्य(वर्तमान क्रोएशिया) मे हुआ था। 1870 मे निकोला टेस्ला ने कार्लोवैक के स्कूल मे प्रवेश लिया और उस स्कूल मे अपने गणित शिक्षक मार्टिन सेकुलिक से प्रभावित हुये थे। टेस्ला उस समय समाकलन(Integral Calculus) के प्रश्नो को अपने मन मे ही हल करने मे सक्षम थे। उनके शिक्षको को उन पर विश्वास नही होता था लेकिन उन्होने अपना चार वर्ष का अभ्यासक्रम तीन वर्षो मे ही पूरा कर लिया। 1875 मे उन्होने आस्ट्रीयन पालीटेक्निक मे प्रवेश लिया, और अपने प्रथम वर्ष मे उन्होने सभी कक्षाओं मे उपस्थित रहे, नौ परिक्षायें उतीर्ण की और सभी मे सर्वोत्तम संभव गुण प्राप्त किये।

1881 मे उन्होने बुडापेस्ट मे एक टेलीग्राफ कंपनी “बुडापेस्ट टेलीफोन एक्स्चेंज” मे मुख्य विद्युत अभियंता के पद पर नौकरी कर ली। इस पद पर उन्होने केंद्रीय संचार उपकरणो मे अनेक सुधार किये और टेलीफोन एम्प्लीफायर को नये रूप से बनाया। लेकिन उन्होने इस पर पेटेंट आवेदन नही किया।

1882 मे उन्होने थामस अल्वा एडीसन की कंपनी कांटीनेंटल एडीसन कंपनी फ्रांस मे नौकरी कर ली और विद्युत उपकरणो मे अभिकल्पन मे सुधार करने लगे। जुन 1884 मे उनका स्थानांतरण न्युयार्क अमरीका कर दिया गया। टेस्ला ने एडिसन के सामने उसकी मोटर और जनरेटर को ज्यादा प्रभावी बनाने का प्रस्ताव रखा था। एडीसन ने टेस्ला को कहा कि यदि वह इस कार्य मे सफल हो गया तो उसे पचास हजार डालर मिलेंगे। टेस्ला ने ऐसा कर दिखाया, लेकिन एडिसन अपने वादे से मुकर गया। एडिसन ने अपने वादे को अमेरिकन हास्य(American Humor) कह कर टेस्ला का मजाक उड़ाया, गुस्से में टेस्ला ने एडिसन का साथ छोड़ दिया।

एडीसन की कंपनी छोड़ने के पश्चात उन्होने अपनी स्वयं की कंपनी टेस्ला इलेक्ट्रिक लाईट एन्ड मैनुफैक्चरींग की स्थापना की। इस कंपनी मे उन्होने डायनेमो इलेक्ट्रिक मशीन कम्युटेटर का अभिकल्पन किया। यह उनका सं. रा. अमरिका मे पहला पेटेंट था।

शुरू में कुछ कंपनियों में काम करने के बाद टेस्ला ने पेरिस में “कॉन्टीनेंटल एडीसन कंपनी” मे नौकरी की। इस बीच उसने कुछ अलग प्रकार के डायनमो विकिसत किये। तभी उन्हें अमेरिका के महान आविष्कारक थॉमस अल्वा एडीसन के साथ काम करने का मौका मिला। उन्होंने एडीसन की कंपनी को नयी ऊंचाइयों पर पहुंचाया, लेकिन शीघ्र ही दोनों में विवाद हो गया, जो बड़े पैमाने पर विद्युत वितरण प्रणाली को लेकर था।

टेस्ला की कुछ महत्वपूर्ण खोजें यह हैं टेस्ला की कुछ खोजें

AC बिजली.  टेस्ला वेव्स (Electric waves) बिजली से चलने वाली मोटर. (जिस पर बिजली की हर चीज आधारित है.) वायरलेस संचार.  रोबोटिक्स, रिमोट कंट्रोल, राडार.

1890 के दशक में, निकोला ने उच्च वोल्टेज ट्रांसफार्मर का आविष्कार किया, जिसे विद्युत थरथरानवाला, मीटर, बेहतर प्रकाश और टेस्ला कुंडली के रूप में जाना जाता है। उन्होंने ग्गलीलो मार्कोनी के दो साल पहले एक्स-रे के साथ प्रयोग भी किया, रेडियो संचार के लघु-प्रदर्शन वाले प्रदर्शनों को प्रदान किया और मैडिसन स्क्वायर गार्डन के एक पूल के आसपास एक रेडियो-नियंत्रित नाव आयोजित किया। साथ में, टेस्ला और वेस्टिंगहाउस ने शिकागो में 18 9 1 की दुनिया की कोलंबियन प्रदर्शनी प्रकाशित की और नियाग्रा फाल्स पर एसी जेनरेटर स्थापित करने के लिए सामान्य बिजली से भागीदारी की, पहला आधुनिक पावर स्टेशन बनाया। 200 से अधिक का आविष्कार किया। टेस्ला को 7 जनवरी, 1 9 43 को अपने कमरे में मृत पाया गया था। बाद में अगले वर्ष, यू.एस. सुप्रीम कोर्ट ने चार मार्सॉजिक कुंजी पेटेंट बर्खास्त कर दिए, अंततः टेस्ला के रेडियो सिस्टम में नवाचार स्वीकार कर लिया, एसी सिस्टम जो चैंपियन और सुधार हुआ, पावर ट्रांसमिशन के लिए एक वैश्विक मानक रहा है।1856 में पैदा हुए टेस्ला एक आविष्कारक, मेकेनिकल, इलेक्ट्रिकल और फिज़िकल इंजीनियर थे. 86 साल की उम्र में उनका निधन हो गया था, लेकिन उनकी भविष्यवाणियों ने उन्हें आज भी ज़िंदा रखा है.

निकोला टेस्ला एक महान वैज्ञानिक /The great scientist Nikola Tesla

Rajesh Sharma

Blogger, Researcher, Author

रिप्लाई (रिप्लाई) दें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: